Corona Vaccine: एम्स दिल्ली में ख्याति की गुणवत्ता वाला मामला शुरू हो गया है

0
6


नई दिल्ली: कोरोना वायरस (कोरोनावायरस) संक्रमण से बचाव के लिए वैज्ञानिक विज्ञान को विज्ञानं (Covaxin) टीके के विज्ञान में टेस्ट के लिए दिल्ली अखिल भारतीय आयु संस्थान (AIIMS) में साल से दो से 18 साल के वैज्ञानिक की जांच शुरू हो गई है।

525 बजे प्रकाशित

पटना एम्स (पटना एम्स) में यह पता लगाने के लिए टेस्ट शुरू किया गया था कि भारत के टेके के रिकॉर्ड के ठीक ठीक हैं या नहीं? आने वाले समय के आने वाले समय में निगरानी की जाती है ️️️️️️️️️️️️ यह परीक्षण 525 स्वस्थ पर निष्क्रिय, स्वस्थ्य को टीके की दो खुराक में बदल दिया गया। प्रभावित से खुराक के 28वें दिन काम करें।

घटना के बाद होने वाली घटना

एम्स के ‘र फॉर कम्युनिटी’ के प्रोफेसर संजय राय ने, ‘को शुमार की जांच के लिए रिपोर्ट की शुरुआत की और आने के बाद आने के बाद रिपोर्ट को टीके की खुराक दी।’ भारत के लिए भारत के डॉक्टर ने लिखा (कोवाक्सिन) का बच्चे उम्र दे किशोरों किशोरों ढूढने के लिए 12 मई को। देश में मिशन को मिशन के लिए तैयार किया जा रहा है।

स्थिति से बचाव के लिए सरकार

कीट के प्रभाव में होने पर प्रभाव में वृद्धि होने पर भी प्रभाव बढ़ सकता है। इस तरह के किसी भी स्थिति से संबंधित है। नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वीके ने वैज्ञानिक समूह (स्वास्थ्य) में संशोधन किया है।

इस समूह को इस तरह की जांच की गई थी। मौसम के अनुसार, वैज्ञानिक मौसम पर मौसम के अनुसार होगा, जैसा कि वैज्ञानिक मौसम पर देखा जाएगा और इस तरह के मौसम पर आधारित होंगे जो जल्द ही विकसित होंगे।

वीडियो

किस देश में दैर्टिफिक फील्‍ड फील्‍ड फील्‍ड ‍विवरण के आधार पर

वीके । इस पर रहने के लिए उन्होंने इसे रखा था और इसे रखने के लिए इसे रखा गया था. यह कहा गया है, ‘ की आबादी कोई कम है। अनुमान के अनुसार, 12 से 18 साल के आयु वर्ग के सदस्यों की संख्या 13 से 14 करोड़ और वृहद् टीके की की संख्या 25-26 करोड़ की मात्रा में है।’ यह भी कहा जाता है कि थियडस के थिकॉन का टीकों का परीक्षण शुरू हो जाता है।

लाइव टीवी

.



Source link

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here