मैच फिक्सिंग के दोषी पाए गए UAE के दो क्रिकेटर, ICC ने लगाया आठ साल का बैन

0
17



<p style="text-align: justify;">इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने मैच फिक्सिंग के दोषी पाए जाने के बाद यूनाइटेड अरब अमीरात (UAE) क्रिकेट टीम के आमिर हयात और अशफाक अहमद पर आठ-आठ साल का बैन लगा दिया है. आईसीसी ने यूएई के खिलाड़ियों आमिर और अशफाक को भ्रष्टाचार रोधी नियमों के उल्लंघन का दोषी पाए जाने के बाद आठ साल के लिए सभी तरह के क्रिकेट से प्रतिबंधित कर दिया है.</p>
<p style="text-align: justify;">बता दें कि आमिर और अशफाक पर 2019 में टी20 ​विश्व कप क्वालीफायर में पैसा या गिफ्ट लेकर मैच के नतीजे को प्रभावित करने का आरोप लगा था. इसके बाद आईसीसी ने इन दोनों खिलाड़ियों को उसी समय सस्पेंड कर दिया था. लेकिन अब उन्हें मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">क्रिकेट वेबसाइट क्रिकबज के मुताबिक, आईसीसी ने दोनों क्रिकेटरों को 13 सितंबर 2020 को अस्थाई तौर पर सस्पेंड कर दिया था. ट्रिब्यूनल ने उन्हें परिणाम को प्रभावित करने के लिए रिश्वत में शामिल होने और आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई (एसीयू) को भ्रष्टाचार के विवरण के साथ-साथ प्राप्त नकद/गिफ्ट के साथ-साथ भ्रष्ट तत्वों के दृष्टिकोण का खुलासा करने में विफल रहने जैसे कई मामलों में दोषी पाया. उन्हें अनुच्छेद 2.1.3, 2.4.2, 2.4.3, 2.4.4 और 2.4.5 के तहत दोषी ठहराया गया था.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">आईसीसी के ट्रिब्यूनल ने इन दोनों खिलाड़ियों को पांच अपराधों में दोषी पाया है. रिपोर्ट के मुताबिक, आमिर हयात और अशफाक अहमद ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है.&nbsp; आईसीसी के इंटीग्रिटी यूनिट के महाप्रबंधक एलेक्स मार्शल ने कहा, "आमिर और अशफाक दोनों ने मैच फिक्सरों के खतरे को समझने के लिए लंबे समय तक उच्चतम स्तर पर क्रिकेट खेला था."&nbsp;</p>



Source link

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here