माता-पिता का तनाव: कोरोना से ठीक होने वाले मल्टीसिस्टम इंफ्लेमेटरी सिंड्रोम का बनना

0
17


नई दिल्ली: कोरोना (कोरोनावायरस) के खतरे के बीच विशेषज्ञ गतिविधि एक और सूचना है। कोरोना संक्रमण से ठीक होने पर स्वस्थ्य इंफ्लैमेटरी सिंड्रोम (मल्टीसिस्टम इंफ्लेमेटरी सिंड्रोम-एमआईएस) के मामले में देखें जा रहे हैं। बदलते समय, केंद्र में यह स्थिति है और यह समय के लिए उपयुक्त है। उपचार के लिए संवाद-बिक्री कार्यक्रम चल रहे हैं.

ये एमआईएस के गेम

एंटाइटेलमेंट इंफ्लैमेन्ट इन्फ्लैमेन्ट से संबंधित रिपोर्ट में रिपोर्ट की गई, लाल पर चकते वर्ड में, आना, फुलना, डायरिया और थकान जैसी स्थिति वाले हैं। ‘हिंदुस्तान’ ने अपनी विशेषज्ञता के साथ पेश किया है। कोरोना में संक्रमण में संक्रमण, MIS में पूरे शरीर में संक्रमण होता है, इसलिए रोगाणु संक्रमण में संक्रमण होता है।

ये भी पढ़ें, -ब्रिटेन में खतरनाक टकराने की घटना, ब्रिटेन की खराब भारत पर हमला हो सकता है?

सरकार को

कोरोना है है है है है ज्यादा नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी.के. मंत्रालय के हिसाब से संबंधित व्यक्ति विशेष रूप से संबंधित है।. उपचार की गुणवत्ता के लिए रोग विशेषज्ञ के लिए एक समूह तैयार किया गया था, जिसे ठीक किया गया था और जल्द ही लक्षण-निर्देश जारी किए जाएंगे।

चुनौती के लिए सरकार

डॉक्टर वी.के. असामान्य रूप से संक्रमित होने पर (कोरोना संक्रमण) कम हो सकता है और प्रकृति में यह भी खतरनाक हो सकता है, जब भी आपके व्यवहार में कोई परिवर्तन हो सकता है तो यह स्थिति भी बदल सकती है। है। उन्होंने कहा कि यह सच है। सरकार के नए तरीके इस चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं।

.



Source link

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here