छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने अगवा किए गए 7 ग्रामीणों को छोड़ा

0
13


रायपुर: पुलिस ने बुधवार (21 जुलाई) को बताया कि छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में कुछ दिन पहले नक्सलियों द्वारा कथित तौर पर अगवा किए गए सात लोगों को रिहा कर दिया गया है और वे सुरक्षित अपने गांव लौट गए हैं। पुलिस ने कहा कि उन्हें रिहा करने से पहले, विद्रोहियों ने ग्रामीणों को इलाके में ‘पुलिस या विकास कार्यों का समर्थन नहीं करने’ की चेतावनी दी।

पुलिस महानिरीक्षक (बस्तर रेंज) सुंदरराज पी ने कहा, “ये लोग मंगलवार रात जगरगुंडा थाना क्षेत्र के अपने गांव कुंडेड पहुंचे और सभी सुरक्षित हैं।” उन्होंने बताया कि 18 जुलाई को माओवादी सात लोगों को अपने साथ जबरन ले गए थे और खूंखार माओवादी कमांडर हिडमा के पैतृक गांव पुवर्ती गांव की ओर ले गए थे और कथित तौर पर उन्हें बंदी बना लिया था.

जब वे नहीं लौटे तो क्षेत्र के ग्रामीणों का एक दल उनकी तलाश में जंगल में चला गया। अधिकारी ने बताया कि सतर्क होने के बाद पुलिस हरकत में आई और इन लोगों की तलाश शुरू की। इस बीच, आदिवासी समुदायों के स्थानीय प्रतिनिधियों से भी संपर्क किया गया और उन्होंने मीडिया में एक अपील जारी कर उग्रवादियों से अपहृत ग्रामीणों को रिहा करने को कहा।

अधिकारी ने कहा, “पुलिस के बढ़ते दबाव और स्थानीय आदिवासी नेताओं की अपील के कारण नक्सलियों को उन्हें मुक्त करना पड़ा।” उन्होंने कहा कि पुलिस अपहृत ग्रामीणों के बयान दर्ज करेगी।

लाइव टीवी

.



Source link

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here