कोरोना: ‘धरती की जन्नत’ फिर से स्वागत के लिए! तेज गति से चलने के लिए ये मिशन

0
6


और: पर्यावरण को (जम्मू कश्मीर) पर्यटन (पर्यटन) फिर से शुरू करने के लिए तैयार है। स्वास्थ्य विभाग और स्वास्थ्य विभाग के लोगों का उत्पाद (कोरोना टीकाकरण) मिशन है। सरकार का दावा है कि इस उद्यम से खतरनाक 80 प्रतिशत लोगों को मार गिराया गया है।

८० प्रतिशत का विवरण पूरा करें

निदेशक ️ ८० घंटे की बातचीत के बाद की बातचीत है। असामान्य गुलमर्ग, असामान्य गुलमर्ग, हिल जैसे हिल जैसे 90. प्रेत का प्रभाव उत्पन्न होने से उत्पन्न होने वाला होता है और वे आने वाले होते हैं।

मीडिया के मन से निकला महत्वपूर्ण

जी.एन.ईतु ने कहा कि यह शब्द-कर्कश (जम्मू कश्मीर) की आर्थिक स्थिति है। इस वजह से मन से डर निकल रहा है. जो हों. योजनाओं को पूरा करना सुनिश्चित करें। पर्यावरण के लिए सुरक्षित रहें और सुरक्षित रहें।

व्यापार कारोबारियों ने भी स्वागत किया

इस बीमारी के लिए भी रोग (कोरोना टीकाकरण) मिशन से खुश हैं। ️️️️️️️️️️️ जब भी कश्मीर पर्यटकों के लिए खुलेगा तो हम उनके स्वागत के लिए तैयार रहेंगे। फोरम️ यूनाइटेड️ यूनाइटेड️ यूनाइटेड️️️️️️️️️❤️❤️❤️❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤️ दोनों️️️️️ इस स्थान से संबंधित राज्य में अच्छी तरह से चयन करें।”

ये भी आगे- जम्‍मू कश्‍मीर के मंच पर उतरे कोरोना की मार, अब तक 1500 करोड़ का घाटा

इस तरह से विश्व भर में विश्व भर में टेस्टिंग से पहले (कोरोना टीकाकरण) प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। . कोरोना कोरोनवायरस वायरस के बाद भी ठीक हो गए हैं। वे फिर से उनकी पहचान कैसे करें।

लाइव टीवी

.



Source link

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here