अलीगढ़ के गांव में ‘बिक्री के लिए घर’

0
20


अलीगढ़: लोग . इस घटना ने प्रबंधन किया है। इस मामले में अलीगढ़ के टप्पल थाना क्षेत्र के नूरपुर गांव का निवास स्थान एक विशेष व्यक्ति के लोगों के साथ मिलकर बना है।

रक्षा में उतरना अखाड़ा परिषद

गांव के लोगों से भारतीय अखाड़ा परिषद ने घर जाने की अपील की है। परिषद के अध्यक्ष महंत नार गिरी ने, ‘नूरपुर गांव के लोग घर जाने के लिए.

इस घटना में शामिल होने के बाद, ‘ वे बाहरी रूप से नहीं होते हैं। आप की आबादी अधिक है, आपसे बात करना गलत है। .

बारात पर ध्यान दें

पैदा पुलिस ने मंगलवार को पेश किया था जब नूरपुर में 26 मई को बहुसंख्यक के एक व्यक्ति की विशेष गाजे-बाजे के साथ बार में कैद किया गया था। इस पर प्रदर्शन करने वालों के प्रदर्शन पर चलने के बाद फलने-फूलने पर ज़बर्दस्ती फलाव होगा। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

इस बहु न । इस घटना में कई लोगों को चोट आई और उनकी कई गाड़ियों के शीशे टूट गए।

गांव पर मजबूरी

शादी की बैठक के साथ मिलकर काम करने वाले परिवार के रूप में बदलाव किया गया है। वे कहीं और पलायन करना चाहते हैं क्योंकि अल्पसंख्यक समुदाय के लोग उन्हें परेशान करते हैं।

वीडियो होने के साथ ही, विधायक दल के सदस्य सतीश होते हैं और अनूप प्रधान ने गांव का दौरा किया और विश्वास किया कि किसी को भी अपनी सुरक्षा की चिंता है।

ये भी आगे: कुदाल से पत्‍नी काटा, एक बार फिर से

पुलिस कार्रवाई की तैयारी

अल्पसंख्यक समुदाय समुदाय समुदाय यह 26 अक्टूबर को वारिस की ओर से दर्ज की गई थी।

का कहना है कि यह भी क्रियान्वित करने के लिए आवश्यक है।

.



Source link

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here